गायनेकोमैस्टिया का इलाज (Gynecomastia Treatment )

गायनेकोमैस्टिया का इलाज

गायनेकोमैस्टिया का इलाज ? गायनेकोमैस्टिया नामक रोग पुरुषों में पाया जाता है | पुरुषों में जब सतन के ऊतकों में सूजन आ जाती है तो उस स्थिति को गायनेकोमैस्टिया कहते हैं| यह समस्या पुरुषों में हार्मोन असंतुलन के कारण होती है |यह टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजन हार्मोन के बढ़ने की वजह से होता है| गायनेकोमैस्टिया की वजह से ब्रेस्ट कैंसर होने की संभावना होती है |गायनेकोमैस्टिया होने पर पुरुषों के स्तन उभर आते हैं| 50 वर्ष ऊपर आयु  के पुरुषों में यह समस्या हो सकती है|

गायनेकोमैस्टिया हमेशा से पुरुषों के मानसिक तनाव का कारण रहा है और सही जानकारी व उचित इलाज के आभाव में इससे पहले छुटकारा पाना मुश्किल था, लेकिन कॉस्मेटिक सर्जरी के जरिए बिना किसी निशान या कॉम्प्लिकेशन के एक दिन में गायनेकोमैस्टिया नामक रोग को रिमूव किया जा सकता है।

Gynecomastia
गायनेकोमैस्टिया (Gynecomastia)

गायनेकोमैस्टिया के लक्षण (Symptoms of Gynecomastia )

  • गायनेकोमैस्टिया रोग के होने पर पुरुषों के स्तनों में सूजन आ जाती है|
  • किशोरावस्था में निपल्स का बड़ा दिखाई देना इसका मुख्य लक्षण है|
  • सामान्य ग्रंथियों के उत्तक और वसा की वृध्दि होना इस रोग के मुख्य लक्षण है|
  • निपल्स से द्रव का निकलना गायनेकोमैस्टिया रोग का मुख्य लक्षण है|
  • ज्ञानेंद्रिय में हार्मोन की अतिरिक्त ए सामान्यता मान्यता हो सकती है या शरीर के बालों में भी परिवर्तन आ सकता है|

गायनेकोमैस्टिया के कारण (Causes of Gynecomastia)

  • अनुवांशिकता –आपके परिवार के किसी भी सदस्य को यह समस्या है तो आप गायनेकोमैस्टिया की चपेट में आ सकते हैं|
  • धूम्रपान करने से-अल्कोहल का सेवन करने से गायनेकोमैस्टिया रोग की होने की संभावना बढ़ जाती है|
  • मोटापा –मोटापा गायनेकोमैस्टिया नामक रोग का मुख्य कारण है| मोटापे के कारण पुरुषों के सत्नो के आस पास अतिरिक्त चर्बी जमा हो जाती है जिस्से यह रोग होने की संभावना बढ़ जाती है|
  • उम्र का पड़ाव- गायनेकोमैस्टिया की समस्या जब बच्चे युवावस्था में प्रवेश करते हैं तो यह समस्या उत्पन्न हो जाती है क्योंकि इस दौरान हारमोंस में परिवर्तन होता है | बढ़ती उम्र के साथ-साथ गायनेकोमैस्टिया नामक रोग के होने की संभावना में विकास हो जाता है|

गायनेकोमेमैस्टिया के घरेलू उपाय

1.हल्दी– हल्दी पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने का काम करती है |इसका सेवन करने से पुरुष गायनेकोमैस्टिया की समस्या से बच सकते हैं|

2.अलसी और सोया-अलसी और सोया टेस्टोस्टेरोन की मात्रा को बढ़ाने में मददगार नहीं होती लेकिन यह एस्ट्रोजन का स्तर कम करने में सहायक होते हैं| अपनी प्रतिदिन के आहार में अलसी के तेल को शामिल करें यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी सहायक है|

3.ओमेगा 3 फैटी एसिड– यह टेस्टोस्टेरोन के उत्पादन को बढ़ाने में सहायता करता है मछली में 3 फैटी एसिड सबसे ज्यादा पाया जाता है जो गायनेकोमैस्टिया से पीड़ित लोगों के लिए बहुत ही लाभदायक सिद्ध हुआ है|

4.गुग्गुल– यह जड़ी बूटी है| यह एस्ट्रोजन के स्तर को कम करने और पुरुष हार्मोन के उत्पादन को बढ़ाने में हमारी मदद करती है| इसका उपयोग पुरुषों के स्तन के उसको की सूजन कम हो जाती है|

गायनेकोमैस्टिया सर्जरी (Gynecomastia Surgery)

1.मैस्टेक्टमीसर्जरी-इस सर्जरी में सतन की ग्रंथि उत्तक को काटकर बाहर निकाल दिया जाता है|

2.पुल थ्रू सर्जरी: इस सर्जरी में निप्पल के पास एक छोटे से छेद के  माध्यम से चर्बी और ग्रंथि युक्त टिशूज को बाहर निकाल दिया जाता है| इस सर्जरी से शरीर पर बहुत कम निशान पढ़ते हैं| इस सर्जरी के होने पर साफ सफाई का ध्यान रखना आवश्यक है अन्यथा संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है|

Gynecomastia surgery
गायनेकोमैस्टिया सर्जरी (Gynecomastia surgery)

गाइनेकोमैस्टिया से बचाव 

1.बढ़ती उम्र -उम्र बढ़ने के साथ-साथ हारमोंस में बदलाव आता है और गायनेकोमैस्टिया नामक रोग के होने की संभावना दिन प्रतिदिन बढ़ती है|

2.शराब का सेवन न करें– अधिक मात्रा में शराब का सेवन करने से गायनेकोमैस्टिया की समस्या उत्पन्न हो जाती है| इसलिए शराब का सेवन अधिक ना करें|

3.एंटीबायोटिक से -एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन करने से गायनेकोमैस्टिया होने की संभावना बढ़ जाती है| ये हारमोंस को प्रभावित करते हैं| इसकी वजह से पुरुषों के सपनों में बदलाव हो रहा है तो डॉक्टर से सलाह ले|

4.अनुवांशिकता– आपके परिवार के किसी भी सदस्य को यह समस्या कोई है तो आप गायनेकोमैस्टिया नामक रोग की चपेट में आ सकते हैं|

5.वजन कम करें– मोटापे के कारण भी पुरुषों के सत्नो  में सूजन आ जाती है|