धूम्रपान(smoking)

धूम्रपान

धूम्रपान करने वालों में फेफड़ों की समस्या की संभावना महिलाओ की अपेक्षा पुरुषो मे कहीं अधिक होती है। सिगरेट में मौजूद जीव-विष रूपी पदार्थ हमारे फेफड़ों तक ऑक्सीजन को जाने से रोकते हैं जिसके कारण हमें कफ और खांसी के साथ-साथ बीमारी का रुप धारन कर लेती है |फेफड़ों के कैंसर से संबंधित 90 प्रतिशत मामलों में यह पायागया है कि ये कैंसर धूम्रपान के कारण ही होता है। 

धूम्रपान
धूम्रपान ( smoking)

धूम्रपान होने के कारण (Causes of smoking)

  • सिगरेट में मौजूद केमिकल्स के कारण फेफड़ों की ऊपरी सतह पूरी तरह से क्षतिग्रस्त व लकवाग्रसत हो जाती है।
  • धूम्रपान के कारण श्वास नली संकरी हो जाती है, जिससे फ्लेम की समस्या बढ़ जाती है और सांस लेने में भी तकलीफ होती है।
  • कार्बन मोनोऑक्साइड, एक प्रकार का जहर है जो रक्त में पहुंचने के साथ ही शरीर के लिए नुकसानदेह हो सकता है। यह सिगरेट में मौजूद होता है। 

धूम्रपान के हानिकारक स्वास्थ्य प्रभाव (Short term effects of smoking)

  1. रक्त वाहिकाओं से रोग-सिगरेट में निकोटिन रक्त वाहिकाओं को कम करने का कारण बनता है यानी रक्त प्रवाह कम हो जाता है इसके साथ ही आपकी त्वचा को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाती|
  2. स्व-प्रतिरक्षित रोग-मनुष्य के शरीर में रोगों और अन्य प्रकार के इन्फेक्शन से लड़ने की शक्ति होती है जिसे प्रतिरक्षा प्रणाली कहते हैं और इस प्रणाली से जुड़े रोगों को स्व-प्रतिरक्षित रोग कहते हैं। धूम्रपान करने वाले व्यक्ति का प्रतिरक्षा प्रणाली धीरे-धीरे कमज़ोर हो जाती है |
  3. हड्डियों में कमज़ोरीधूम्रपान से  ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा बढ़ जाता है। इसमें हड्डियाँ कमज़ोर हो जाती है और कुछ भी हादसा होने पर हड्डियों के टूटने का खतरा बढ़ जाता है। ज्यादातर धूम्रपान करने वाले बुजुर्ग महिलाओं और पुरुषों में इस रोग के होने की सम्भाव्ना ब्ढ जाती है|
  4. आँखों में मोतियाबिंद –धूम्रपान करने से  आंखों में मोतियाबिंद नामक रोग हो जाता है |आँखों के रेटिना के मध्य भाग में इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। आँखों की देखने की शक्ति कम हो जाती और धुंधलापन सा दीखता है।
  5. फेफ्डो क कैंसरधूम्रपान करने से व्यक्तियों में कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है |धूम्रपान करने से सबसे ज्यादा प्रभाव फेफड़ों पर पड़ता हैक्योंकिसबसे पहले सिगरेट से निकलने वाला धुआं फेफड़ों में ही जाता है |धूम्रपान करने से फेफड़ों में पानी पड़ने की संभावना बढ़ जाती है |
धूम्रपान
धूम्रपान (smoking)

धूम्रपान के बारे मे ध्यान रखने योग्य कुछ बाते (Smoking facts)

  1. पांच सिगरेट से अगर निकोटीन को निकाल कर अलग से खाया जाए तो खाने वाले की पांच मिनट में मौत हो सकती है। 
  2. सिगरेट पीने की वज़ह से दिल के दौरे,दमा होने और कैंसर होने या खासकर फेफड़ों का कैंसर होने की सम्भाव्ना ब्ढ जाती है|
  3. जिन बच्चों के माँ-बाप सिगरेट पीते हैं उनको पैदा होने के एक-दो साल के अंदर ही निमोनिया होने की सम्भाव्ना ब्ढ जाती है|
  4. सिगरेट के धुएँ केनिकोटिन, कार्बन मोनोक्साइड और दूसरे विषैले रसायन, माँ के खून के ज़रिए बच्चे तक पहुँचते रहते हैं जिससे गर्भपात हो स्क्ता है|
  5. मूत्र में पाया जाने वाला कैमिकल कंपाउंड यूरिया नाइट्रेट का इस्तेमाल सिगरेट का फ्लेवर बढाने के लिए किया जाता है। 
  6. सिगरेट में केडमिम (CADMIUM) नामक रसायन पाया जाता है यही केडमिम बैटरी में भी पाया जाता है। बैटरी को तोड़ने पर जो काला टार निकलता है उसमे केडमिम निहित होता है।
  7. अगर आप एक दिन में सिगरेट का एक पैकेट पीते हैं तो उससे निकलने वाला रेडिएशन छाती के 200 एक्सरे के जितना होगा।
  8. 1सिगरेट बीड़ी छोड़ने के 8 घंटे बाद शरीर से कार्बन मोनोऑक्साइड बाहर निकल जाती है 5 दिनों बाद शरीर में मौजूद सारी निकोटिन बाहर निकल जाती है एक हफ्ते बाद खाने पीने की चीजों में स्वाद आने लगता है |3 हफ्ते बाद फेफड़े 30% बेहतर काम करने लगते हैं |
  9. धूम्रपान करने वाले व्यक्ति की उमर धूम्रपान न करने वाले व्यक्ति की तुलना में बीएफ से 25% कम हो सकती है |
  10. सिगरेट बीड़ी पीना छोड़ कर आप हार्ट अटैक के खतरे को 50% तक कम कर सकते हैं |
  11. दुनिया में हर साल तंबाकू का सेवन करने से 700000 लोग मरते हैं और इन 60 लॉक लोगों में से 1000000 लोग भारत के होते हैं इसका मतलब हर दिन भारत में 35 00 मौतें तंबाकू का सेवन करने से होते हैं |
  12. तंबाकू कानूनी तौर पर बिकने वाला ऐसा पदार्थ है जिसका निर्देशों के अनुसार सेवन करने से भी दुनिया में हर्ष 6 सेकंड में एक व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है |

धूम्रपान से जुड़े कुछ तथ्य (Smoking quotes)

  • तजुर्बा कभी-कभी किस्मत से भी मार खाता है यह देखना है तो आंधी में सिगरेट जला ते लड़कों को देखना|
  • यह धूम्रपान की आदत आसानी से कहा छूट पाती है पहले सिगरेट हम फूंकते हैं फिर सिगरेट हमें फुक जाती है|
  • भारत में हर साल  10 लाख लोग सिगरेट तंबाकू छोड़ देते हैं क्योंकि ऐसा करने के लिए मैं जिंदा ही नहीं बचते|
  • तंबाकू का नशा अनमोल जीवन की दुर्दशा|
  • आप सिगरेट को नहीं सिगरेट आपको पीती है इसका नतीजा सिर्फ मौत है|
  • सिगरेट जलाई थी तेरी याद भुलाने को मगर कंबख्त धुए ने तेरी तस्वीर बना डाली|
  • 31 मई विश्व तंबाकू निषेध दिवस|
  • नशा छोड़ दो वरना वह आपको निकल जाएगा|
  • तंबाकू को जिसने गले लगाया मौत को उसने पास बुलाया|
  • धूम्रपान घातक है |